व्याख्याता मेघा पंवार ने किया उत्कृष्ट कार्य, कई बार हो चुकी है सम्मानित

 


भारत सागर न्यूज/देवास। शासकीय अध्यापक शिक्षा महाविद्यालय देवास में पदस्थ शिक्षिका (व्याख्याता) मेघा पंवार ने विद्यार्थी भविष्य एवं जीवन की रक्षा करते हुए अध्ययनरत दिव्यांग छात्र अध्यापक जितेन्द्र गौड़ को विषम परिस्थितियों एवं समस्याओं से बचाया है। माता-पिता, गुरु एवं ईश्वर के बाद छात्र जीवन में केवल शिक्षा ही सर्वोत्तम है। क्योंकि शिक्षा और ज्ञान जीवन को सही दिशा प्रधान करते हैं। अर्थात सब पढ़े, सब बढ़े को सिद्ध किया है। गुरू महोदया के इस प्रकार के श्रेष्ठ विचारों एवं लगातार अथक प्रयासों ने दिव्यांग छात्र जीवन को अनेक बाधाओं से बचाया है। आज इसी का परिणाम है। छात्र ने राष्ट्रीय साहित्यकार के रूप में राष्ट्रीय मंचों पर श्रेष्ठ रचनाओं एवं भाषणों तथा अपनी कला द्वारा महाविद्यालय एवं देवास जिले का नाम देश के अनेक राज्यों एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गौरवान्वित किया है। राष्ट्रपति महोदया के नाम भी जिलाधीश को इस सराहनीय एवं सम्मानीय कार्य विषय से संबंधित पत्र सौंपा गया है। दिव्यांग विद्यार्थी द्वारा अवगत कराने पर इस सराहनीय कार्य की सराहना करते हुए प्राचार्य अभय सिंह तोमर, दिव्यांगजन कमिश्नर, संदीप रजक (मप्र शासन), हर्ष दीक्षित कलेक्टर राजगढ़, (ब्यावरा), आदित्य मिश्रा आईपीएस राजगढ़ (ब्यावरा), नारायण सिंह कुशवाह सामाजिक न्याय एवं दिव्यांग जन कल्याण मंत्री मप्र शासन, नारायण सिंह पवांर (ब्यावरा) राजगढ़, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मप्र शासन, गौतम टेटवाल (सारंगपुर) राजगढ़ राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मप्र शासन, डॉ. दीपमाला गुप्ता (दिव्योत्थान एजुकेशन एण्ड सोशल वेलफेयर सोसायटी इंदौर, डॉक्टर पवन मकवाना संस्थापक हिन्दी रक्षक मंच इन्दौर, हेमंत सिंह कुशवाहा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विकलांग बल इन सभी ने गुरु द्वारा सम्मानजनक कार्य करने पर शुभकामनाएं व्यक्त करते हुए धन्यवाद दिया।

Comments

Popular posts from this blog

मध्यप्रदेश की विधानसभा के विधानसभावार परिणाम .... सीधे आपके मोबाइल पर | election results MP #MPelection2023

हाईवे पर होता रहा मौत का ख़तरनाक तांडव, दरिंदों ने कार से बांधकर युवक को घसीटा

टोंकखुर्द में कुंड में नहाने गये युवक की डूबने से मौत