चोरों के हौंसले बुलंद, मंदिर में दिनदहाड़े की चोरी.....! अज्ञात चोर चांदी के मुकुट लेकर फरार

-भगवान राम-लक्ष्मण, जानकी के 400 ग्राम वजनी तीन मुकुट 35 वर्ष पुराने थे 

-रहवासियों ने कहा : एक व्यक्ति बाइक से पूजा करने आया और चुरा ले गया मुकुट



देवास। अब तक सूने मकानों को अज्ञात चोर अपना निशाना बना रहे थे, अब अज्ञात चोरों ने मंदिर को भी नहीं छोड़ा। शहर के औद्योगिक थाना क्षेत्र में ग्राम अमोना में अज्ञात चोर ने दिनदहाड़े भगवान के मंदिर में प्रवेश कर भगवान श्री राम, लक्ष्मण, माता जानकी के चांदी का मुकुट चोरी कर लिए और वहां से फरार हो गया। मंदिर के पुजारी को चोरी की खबर तब लगी जब वह मंदिर के पट खोलने के लिए पहुंचे तो भगवान के मुकुट गायब थे। मंदिर के आसपास के रहवासियों ने बताया कि शुक्रवार दोपहर में एक व्यक्ति बाइक से आया और मंदिर में दर्शन करने की नियत से आया था। कुछ देर के बाद वह यहां से चला गया। चोरी की सूचना मंदिर के पंडित ने औद्योगिक थाने को दी जिसके बाद मौके पर पुलिस पहुंची और मुआयना किया। पुलिस ने फरियादी पंडित की रिपोर्ट पर अज्ञात चोर के विरूद्ध प्रकरण दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है। 



औद्योगिक थाना क्षेत्र के ग्राम अमोना में स्थित श्री राम मंदिर में शुक्रवार दोपहर करीब 2 से 3 बजे के दरमियान अज्ञात चोर भगवान श्री राम, लक्ष्मण, माता जानकी के 400 ग्राम से अधिक वजनी चांदी के मुकुट चोरी कर फरार हो गया। चोरी की घटना होने के करीब एक घंटे के बाद इसकी जानकारी मिली तो तत्काल पुलिस को इसकी सूचना दी गई। बताया गया है कि मंदिर के पंडित सतीश शर्मा की माताजी श्रीमती कृपा शर्मा मंदिर के पट खोलने आई तो भगवान के सिर से मुकुट गायब थे। जहां पर वारदात हुई है वहां पर आसपास सीसीटीवी कैमरा भी नहीं लगा है ऐसे में आरोपी के बारे में सुराग लगाना पुलिस के लिए मुश्किल भरा लग रहा है। औद्योगिक पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मुआयना किया, इसके बाद रात में मंदिर के पंडित सतीश पिता रमेशचंद्र शर्मा ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने फरियादी की रिपोर्ट पर धारा 380 के तहत प्रकरण दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया। 


पूजा की और कुछ ही मिनटों में चला गया

रहवासियों के अनुसार शुक्रवार दोपहर करीब ढाई बजे एक व्यक्ति बाइक से आया और मंदिर के पुजारी व आसपास रहने वाले लोगों के बारे में पूछताछ की। उसने खुद को सुनवानी गांव का निवासी बताया, बाद में आसपास गया और कुछ देर बाद अगरबत्ती लेकर आया और पूजा करने के लिए मंदिर में घुस गया। करीब 10-12 मिनट बाद वो मंदिर से बाहर निकला और बाइक लेकर चला गया। दोपहर करीब तीन बजे जब कोई श्रद्धालु मंदिर के अंदर पूजन के लिए पहुंचा तो प्रतिमाओं के सिर से चांदी के मुुकुट चोरी होने का पता चला। 


यह भी पढ़िए -चोरों के हौंसले बुलंदी पर.....! खेत पर बंधी दो भैंस अज्ञात चोर लेकर हुए फरार.....

पट बंद करते समय थे, पट खोले तो मुकुट गायब थे 

मंदिर के पुजारी की माताजी श्रीमती कृपा शर्मा ने बताया कि उन्होनें दोपहर करीब 12.30 बजे मंदिर के पट बंद किए थे। उस दौरान भगवान के मुकुट वहां पर थे। दोपहर करीब 3.30 बजे मंदिर के पट खोले तो भगवान के सिर पर मुकुट नहीं थे। उन्होनें बताया कि मुकुट करीब 35-40 साल पुराने थे और इनका वजन करीब 400 ग्राम से अधिक वजन था। जिनकी अनुमानित किमत 25 हजार रूपए थी। 




Comments

Popular posts from this blog

मध्यप्रदेश की विधानसभा के विधानसभावार परिणाम .... सीधे आपके मोबाइल पर | election results MP #MPelection2023

हाईवे पर होता रहा मौत का ख़तरनाक तांडव, दरिंदों ने कार से बांधकर युवक को घसीटा

टोंकखुर्द में कुंड में नहाने गये युवक की डूबने से मौत