पुलिस जवान पर पत्थर व लटठ से किया हमला 100 नंबर पर था तैनात


मून्दी । खण्डवा जिले के मून्दी थाने के अन्तर्गत आने वाले ग्राम रोहिणी मे रविवार को पुलिस जवान लालसिंह पिता सुखराम पर जान लेवा हमला हुआ। जवान पर पत्थर व लटठ से हमला किया गया जिससे जवान गम्भीर रूप से घायल हो गया गामीणो की सूचना पर 108 एम्बूलेंस से पहले पुलिस जवान को मून्दी अस्पताल लाया गया। यहाँ प्राथमिक उपचार के बाद उसे खण्डवा अस्पताल रेफर किया गया। जिला अस्पताल पहुंचते ही पुलिस जवान की मौत हो गई। पुलिस जवान की हत्या से पुलिस महकमे हडकम्प मच गया सूचना पाकर पुलिस की गाडिया मौके पर गाम रोहिणी स्थल पर पहुंची। इस घटना से गाम रोहिणी मे सन्नाटा छा गया। वारदात दोपहर एक बजे के आसपास की बताई जा रही है बताया जाता है कि रोहिणी गाम से बागरदा जाने वाले रास्ते पर खेत मे एक टप्पर बना हुआ है। विवाद यही हआ। उसके बाद पुलिस जवान पर टप्पर से निकलकर कुछ लोगो ने प्राणघातक हमला किया। पुलिस जवान सिविल ड्रेस मे था पुलिस अधीक्षक श्रीमती रूचिवर्धन मिश्रा पहुँची मून्दी थाने पुलिस जवान पर प्राणघातक हमले के बाद जिला अस्पताल मे हुई मौत को पुलिस अधीक्षक रूचिवट नि मिश्रा ने मामले बड़ी गम्भीरता से लिया। वे रविवार शाम पाँच बजे मामले की चार्ज करने मून्दी थाने पहुंची। उन्होने पुलिस जवान की हत्या के मामले मे अफसरो को जरूरी निर्देश दिये। बताया जा रहा है कि पुलिस जवान की हत्या पर वो काफी नाराजी हुई। हमलावर करौद गाँव का रहने वाला था खोट पर लिया था खेत रहता था वहाँ टप्पर पर रोहिणी गॉव के बाहर एक खेत चुन्नीलाल गोंण्ड को करौद के वह खेत मे गामीणो के पदार्थ सप्लास होना तथ्य उजागर को करौद के आदमी ने लिया था खेत वह खेत मे टप्पर बनाकर रहता था गामीणो के अनुसार टप्पर से नशीला पदार्थ सप्लास होता था विवाद भी कुछ इसी कारण से होना माना जा रहा है। हांलाकि सही तथ्य तो पुलिस जॉच के बाद होगा उजागर देवास जिले के मूलनिवासी था पुलिस जवान लालसिंह मृतक पुलिस जवान लालसिंह पिता सुखराम देवास जिले के तुतीखेड़ा का रहने वाला था। उसके परिवार मे पत्नी के अलावा चार बेटिया है उसमे से एक दस वर्ष की है


Comments