कालिका मैय्या के दर पर होती है मांगी मुरादें पूरी.... कई सूनी गोदों को भरने का मिलता है आशीर्वाद


जलते खप्पर को हाथ में लेकर निकलता है विसर्जन जुलूस ...


देवास, पप्पू चौहान। नवरात्रि में देवास का माहौल देखने को बनता है। पूरे नौ दिनों तक माता रानी के दर पर आस्था का सैलाब उमड़ता है । इसी आस्था में डूब भक्त भाव विभोर होते हैं। इसी आस्था में हम आपको शहर से लगभग 7 किमी दूर सिंगावदा में माता के भक्तों की आस्था का नजारा दिखाने जा रहे हैं । 

यहां अंकित नामक भक्त को मॉ कालिका का आशिर्वाद बताया जाता है और संपूर्ण नवरात्रि मां की आराधना ग्रामीणों के द्वारा पूरी आस्था के साथ की जाती हैं। नवरात्रि के दौरान मंदीर पर गोद भरने की मान्यता भी है। ग्रामीणों द्वारा बताया जाता है कि यहां जिसकी गोद भरी गई उनके घर किलकारियां गूंजी हैं। साथ ही मन से मांगने पर यहां सभी मुरादें भी पूरी होती हैं।  नवरात्रि में प्रथमा से जागृत की गई ज्योत का विसर्जन भव्य विसर्जन जूलुस के बाद किया जाता हैं। इसमें ग्रामीण बढ़चढ़ हिस्सा लेते हैं। 




Comments