लद्दाख सीमा पर डयूटी के लिये रवाना हुये फौजी स्वागत ... Indian army | Ladakh



शाहरुख मंसुरी मूंदी

मूंदी के निकट स्थित ग्राम बांगरदा के निवासी धर्मेन्द्रसिह देश की सेना में नायब सूबेदार पद पर कर्तव्य का निर्वहन कर रहे है । वे एक माह के अवकाश के बाद लददाख सीमा पर डयूटी के लिये रवाना हुये । इस बात की जानकारी मिलने पर नागरिकों ने उनका मूंदी बस स्टेण्ड पर स्वागत किया । यहां फौजी धर्मेन्द्र सिह का पुष्पाहार से स्वागत करते हुये भारत माता का जयघोष भी किया गया । नायब सूबेदार 16 साल की सेवा पूर्ण कर चुके है। वे देश की अलग-अलग सीमाआें पर सजग प्रहरी की भूमिका का निर्वहन कर चुके है । इस दौरान धर्मेन्द्रसिंह ने बताया कि देश की सेना में शामिल होने का उनका सपना था, इस कारण उन्हांने मेहनत कर सपने को पूरा किया । नायब सूबेदार धर्मेन्द्रसिह ने बताया कि सेना मे ज्वाईन होने के पाचं साल बाद उनके एक पैर मे मेघालय सीमा पर दुश्मनों की गोली लगी थी लेकिन सेना के अस्पताल मे उनका बढ़िया उपचार हुआ और वे पूरी तरह से स्वस्थ होकर देश सेवा मे लगे है। धर्मेन्द्रसिह ने कहा कि मेरा युवाओ को संदेश है कि खुद को और देश को इतना मजबूत बनाओ कि दुश्मन देशों के इरादे नेस्तनाबूद हो जाये । इस दौरान नानूराम माण्डले, अधिवक्तागण राजेन्द्रसिह ठाकुर, दिनेश सावनेर रवि पटेल, सावन माणिक, राम सिटेले, सागर राठौर, आदित्य राठौर, प्रीतेश सेन ने फौजी धर्मेन्द्रसिह का स्वागत कर उन्हें खण्डवा की ओर रवाना किया ।



Comments