दिव्यांग पति/पत्नी को एक वर्ष बाद भी नही मिली कन्यादान योजना की आर्थिक सहायता राशि !

विभाग के चक्कर लगाकर दर-दर भटकने को हुए मजबूर, नही हो रही सुनवाई



देवास। जिले के निवासी दिव्यांग पति-पत्नी जोगेन्द्र सिंह और अंजू ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना अंतर्गत सम्मेलन में विवाह किया था। विवाह को लगभग एक वर्ष हो गया है, लेकिन आज तक दोनों नि:शक्तजनों को सम्मेलन में मिलने वाली आर्थिक सहायता और प्रोत्साहन सहायता राशि नही मिली। मुख्यमंत्री कन्यादान योजना अंतर्गत सामूहिक विवाह सम्मेलन आर्थिक सहायता एवं नि:शक्त विवाह प्रोत्साहन सहायता राशि शीघ्र प्रदान कराए जाने की शिकायत जिले के ग्राम लोंदिया जागीर निवासी जोगेन्द्र सिंह ने जिला कलेक्टर से आवेदन देकर की।




शिकायत में बताया कि हमारा विवाह 25/05/2022 रविवार को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना अन्तर्गत सामुहिक विवाह सम्मेलन, ग्राम रणायर तहसील टोंकखुर्द में सम्पन्न हुआ था। विवाह पश्चात मुख्यमंत्री कन्यादान योजना अन्तर्गत मिलने वाली सहायता राशि हमें आज दिनांक तक प्राप्त नहीं हुई। हम गरीब वर्ग से होने के कारण हमने मुख्यमंत्री की महत्वकांक्षी योजना में विवाह किया गया। मैं ओर मेरी पत्नी विकलांग/दिव्यांग है तथा हमने नि:शक्त विवाह प्रोत्साहन राशि हेतु संबंधित विभाग में भी आवेदन किया, किन्तु आज दिनांक तक हमें नि:शक्त विवाह प्रोत्साहन राशि प्राप्त नहीं हुई।  पीडि़ता हितग्राही ने कलेक्टर सहित संबंधित जवाबदारों से मांग की है कि हमारी दयनीय दशा के साथ दिव्यांगता को दृष्टिगत रखते हुवे हमें शीघ्र मुख्यमंत्री कन्यदान विवाह योजना आर्थिक सहायता राशि एवं नि:शक्त विवाह सहायता राशि दिलाई जाए, जिससे हम परिवार का पालन पोषण कर सके।


Comments

Popular posts from this blog

मध्यप्रदेश की विधानसभा के विधानसभावार परिणाम .... सीधे आपके मोबाइल पर | election results MP #MPelection2023

हाईवे पर होता रहा मौत का ख़तरनाक तांडव, दरिंदों ने कार से बांधकर युवक को घसीटा

टोंकखुर्द में कुंड में नहाने गये युवक की डूबने से मौत